छुई मुई (लाजवंती) प्लांट और फ्लावर | chui mui plant

chui mui plant – यह एक अद्भुत पौधा हे जो शर्माकर के सिकुड़ जाता है छुई मुई ( लाजवंती ) का पौधा एक बहुत ही खूबसूरत सजावटी और आयुर्वेदीक पौधा है लाजवंती के पोधे को ही छुई – मुई के नाम से भी जाना जाता हे यह झाड़ी दार पौधा होता है जो हमारे सम्पर्क में आने पर या हमारे हाथ से छू जाने पर ( शर्माकर) सिकुड़ जाता है यह हमारे पौधे पर से हाथ हटाने पर फिर कुछ देर में खिल जाता है

यह जड़ी बूटी में अधिक काम में लिया जाता है यह अपने स्वाद और गुणों के कारण आयुर्वेद में शामिल किया जाता हे इसके पौधे के ऊपर फूल गुलाबी कलर में आते है इस पौधे की कुछ खास विशेषता भी है

chui mui plant
chui mui plant

लाजवंती के बारे में सम्पूर्ण जानकारी – chui mui plant 

ईस post में हम आप को छुई – मुई के पोधे के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाले हे जिसमे में आप को

  • छुई मुई के पोधे की विशेषता
  • छुई मुई का पौधा कैसे लगाएं
  • लाजवंती के 5 फायदे
  • लाजवंती के पौधे के उपयोगी भाग
  • लाजवंती के पौधे का उपयोग कैसे और कब करना हे आदी के बारे में जानकारी देने वाला हु 

इसके पौधे को बहुत से नामो से जाना जाता है

  • छुई मुई का वैज्ञानिक नाम – mimosa पुडिका ( मिमोसा पुडिका )
  • गाँवो में इसे – छुई मुई के नाम से
  • शहरों में इसे – लाजवंती और शर्मीली के नाम से जाना जाता है
  • इंग्लिश में इसे – सेंसिटिव प्लांट और ( touch mi not plant ) के नाम से भी जाना जाता है

लाजवंती ( छुई मुई ) के पौधे और फूल की विशेषता

छुई मुई के पौधे का उपयोग ग्रामीण क्षेत्रों में घाव को भरने में और गठिया आधी की परेशानी में भी किया जाता है घाव को ठीक

लाजवंती की पत्तियों का सवाद खट्टा-मिटा और अम्लीय होता है लाजवंती के पौधे से बनी दवाओं का उपयोग भी बहुत सी बीमारियों किया जाता है जो बहुत ही लाभदायक और गुणकारी होते है

लाजवंती का उपयोग मधुमेह की बीमारी , गठिया , मूत्राशय की पथरी , कब्ज में , खून को साफ करने में , घाव को टिक करने में, डायबिटीज आधी बीमारियों में छुई मुई का बहुत ही अच्छा लाभ होता है

यह भी पढे – मोरपंखी के पोधे को लगाने के फायदे | देखभाल केसे करे और कब उगाये मोरपंखी

छुई मुई का पौधा कैसे लगाएं

छुई मुई के प्लांट को आप आसानी से उगा सकते हे इसे आप बीज से या पोधे को खरीद केआर भी अपने घर मे लगा सकते हे यह एक बहुत ही खूबसूरत पोधा होता हे आप इसे जमीन मे घमले मे कही भी लगा सकते हे आप यहा से छुई मुई के पोधे को ओर बीज को आसानी से online खरीद भी सकते हे

पोधे यहा से खरीदिये – यहा click करे online

बीज यहा से खरीदिये – यहा click करे online

लाजवंती के 5 फायदे

खुजली में फायदे

अगर आप खाज- खुजली की परेशानी से हे तो आप को छुई मुई के पौधे का उपयोग जरूर करना चाहिए , खुजली की परेशानी होने पर आप छुई मुई के पौधे की पत्तियों का लेप बनाकर के अपने खुजली वाले स्थान पर लगाए , इस लेप को आप लगभग 30 मिनिट तक के लगा के रखे और इसके बाद आप इस लेप को पानी की सहायता

घाव में फायदे

लागवंती के पौधे की जड़ को पत्थर पर पीस कर आप अपने घाव वाले स्थान पर लेप करते हे तो आप को घाव में लाभ मिलेगा

ताजा घाव में आप लाजवंती के पत्तो को पीसकर के रस को रुई के पोहे के अंदर इकट्ठा करके घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता हे

पथरी की समस्या में फायदे

किसी भी व्यक्ति को अगर पथरी की शिकायत हे तो वह 10 ग्राम लाजवंती की जड़ का काढ़ा बना कर नियमित रूप से सेवन करने पर पथरी पिघल कर पेशाब में निकल जाती है

दस्त में फायदे

दस्त की परेशानी अधिक होने पर आप लाजवंती के पौधे की जड़ को पीसकर के दही के साथ मिक्स करके उसका उपयोग करते हे तो आप को दस्त की परेशानी में फायदा होगा

अगर आप को अपच हे तो आप लाजवंती के पत्तो के रस का लगभग 20 मिलीग्राम का उपयोग कर सकते हे

बवासीर में फायदे

बवासीर की बीमारी में लाजवंती के पत्तो के चूरन को गाय के दूध के साथ सेवन करने पर बहुत ही अधिक लाभ मिलता हे लाजवंती के पौधे की जड़ और पत्ते का चूर्ण बना के सुबह – शाम सेवन करना बवासीर की बीमारी में लाभदायक होता हे यह आप किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह से ही प्रयोग करना चाहिए

खासी में फायदे

कई लोग खासी होने पर लाजवंत ( छुई मुई ) के पौधे की जड़ के टुकड़े को गले में भी बांधे रहते हे जिससे साधारण खासी में बहुत ही जलधि आराम मिल जाता है

यह भी पढे – गुलाब का पौधा कैसे लगाए | देखभाल कैसे करे | how to grow rose plant in hindi

लजवानी के पौधे के उपयोगी भाग

छुई मुई के पौधे पर केवल जड़ और पौधे की पत्तियों का ही उपयोग ही सबसे अधिक किया जाता है पत्तियों को पीस कर या सीधे भी इसका उपयोग किया जा सकता हे किसी किसी बीमारी में जड़ का उपयोग भी अधिक किया जाता हे

लाजवंती के पौधे का उपयोग कैसे और कब करना चाहिए

लाजवंती के पत्तियों और जड़ का उपयोग आप बिना किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक सलाह के नहीं करे आप पूरी जानकारी के साथ ही छुई मुई का उपयोग करे

लाजवंती के पौधे की विशेषताchui mui plant

अगर आप किसी विशेष बीमारी से परेशान और पीड़ित है तो आप को लाजवंती के पौधे की किसी भी भाग का सेवन नहीं करना चाहिए इसके सेवन से आप जिस भी अन्य दवा का सेवन कर रहे है तो वह दवा आप को काम नहीं करेगी और दवा का उल्टा प्रभाव ( रिएक्शन ) भी हो सकता है

आप बिना आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह लाजवंती के किसी भी भाग का उपयोग ना करे (chui mui plant ) इस ब्लॉग का उद्देश्य आप को जानकारी देना है ना की सलाह देना आप चिकित्सक की सलाह जरूर ले

Leave a Comment